HEALTH

HindustanVision Wednesday,27 December , 2017
महिलाएं मां बन सकती है मिर्गी के समय भी : डॉ रोहित गुप्ता

Faridabad  News, 27 Dec  2017 : ​ औद्योगिक नगरी फरीदाबाद में मिर्गी रोग तेजी से बढ़ रहा है। यह बीमारी पुरुष और महिला दोनों को होती है। लेकिन अगर गर्भावस्था में यह दिक्कत हो जाए तो महिला और बच्चा दोनों की सेहत को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए मिर्गी रोग में लापरवाही नहीं बरती चाहिए। समय पर डॉक्टरी सलाह लेना जरुरी है। यह कहना है सेक्टर 16ए स्थित मेट्रो अस्पताल के वरिष्ठ न्यूरोलॉजिस्ट डॉ रोहित गुप्ता का। 
डॉ रोहित गुप्ता ने बताया कि मिर्गी रोग महिलाओं को दो तरह से प्रभावित करता है पहला, ऐसी महिलाएं जो गर्भधारण से पहले ही मिर्गी रोग से पीडि़त हैं। दूसरी वह जिनमें गर्भधारण के बाद इसके दौरे आते हैं। दोनों स्थितियों में सावधानी बरतकर और फॉलिक एसिड डाइट लेकर महिला स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकती है। 
उन्होंने कहा कि मिर्गी के दौरों का कारण प्रेग्नेंसी में शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव, नींद में कमी, मानसिक तनाव व दवाओं से मेटाबॉलिज्म में बदलाव और ब्लड में मिर्गी की दवाई की मात्रा का कम होना आदि है। इससे गर्भपात, प्रसव पूर्व दौरे, समय से पहले डिलीवरी, प्रसव में जटिलता और दौरे के कारण बेहोशी आदि समस्याएं हो सकती है। इसके अलावा बच्चे को भी भी नुकसान होने की संभावना रहती है, जैसे प्रीमेच्योर बच्चा होना, कम वजन, ऑक्सीजन की कमी से बच्चे की हार्ट रेट कम होना, गर्भ में चोट लगने व शारीरिक विकृतियों की आशंका रहती है।

पहले से प्रेग्नेंसी प्लान करें
ऐसे मामलों में यह जरूरी है कि गर्भधारण का प्रयास करने से पहले ही आप अपने न्यूरोलॉजिस्ट से बात करें और उनसे राय लें, ताकि डॉक्टर यह मूल्यांकन कर सके कि आप अपनी बीमारी को सही तरीके से नियंत्रित कर पा रही हैं या नहीं और क्या गर्भधारण करने से पहले आपके ट्रीटमेंट में किसी तरह के बदलाव की जरूरत है। सबसे जरूरी बात यह है कि आप दौरे को नियंत्रित रखने वाली अपनी सभी दवाएं नियमित रूप से उतनी ही मात्रा में खाती रहें।

दौरे का देखें असर
डॉ गुप्ता ने कहा कि देखने में आया है कि कुछ गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान मिर्गी के उपचार की दवाएं लेते रहने के बावजूद दौरे पड़ते हैं, जो उनके साथ-साथ उनके गर्भ में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य को भी प्रभावित कर सकता है, लेकिन अगर इस स्थिति को सही तरीके से नियंत्रित किया जाए, तो खतरा न के बराबर रह जाता है। कुछ मामलों में अपरिपक्व प्रसूति या प्रीमैच्योर बर्थ (निर्धारित समय से पहले जन्म) भी हो सकता है। इसलिए अगर गर्भावस्था के दौरान दौरा पड़ता है, तो गर्भवती महिलाएं शीघ्र ही अपनी गाइनोकोलॉजिस्ट और न्यूरोलॉजिस्ट को इसकी जानकारी दें।

महिलाएं मां बन सकती है मिर्गी के समय भी : डॉ रोहित गुप्ता

More News

3/18/2019 6:09:28 AM
गढवाल सभा के होली मिलन समारोह में दिखा उत्तराखंड का नजारा

FARIDABAD NEWS . 18 MARCH 2019 :  गढ़वाल सभा रजि द्वारा सैनिक कालोनी स्थित बी.एन.पब्लिक स्कूल में होली मिलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें उत्तराखंड समाज के स Read More...

3/18/2019 5:41:06 AM
कृष्णपाल गुर्जर को टिकट मिली तो भाजपा सरकार का करेंगे बहिष्कार : महंत स्वरूप बिहारी

FARIDABAD NEWS. 18 MARCH 2019 : श्री सनातन धर्म महावीर दल द्वारा सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर एनआईटी मार्किट  नं. एक में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इ Read More...

3/18/2019 5:34:45 AM
थैलेसिमिया ग्रस्त बच्चों के लिए विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन

FARIDABAD NEWS. 18 MARCH 2019 :  पुलवामा में शहीद हुए जवानों को श्रद्धासुमन अर्पित करने के लिए बन्नू मरवत बिरादरी (रजि.) जवाहर कालोनी ने थैलेसिमिया ग्रस्त बच्चों क Read More...

3/18/2019 5:23:17 AM
स्कॉलरशिप से बच्चों को मिलेगा मोटीवेशन : दिनेश रघुवंशी

FARIDABAD NEWS. 18  MARCH 2019 :   विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में ग्रेजुएशन डे धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर बच्चों को स्कूल की ओर से 7 लाख से अधि Read More...

3/18/2019 5:16:01 AM
पंजाबी समाज ने पुलवामा के शहीदों को किया नमन सादगी से होली मिलन समारोह मनाया

FARIDABAD NEWS . 18 MARC 2019 :   राष्टृीय पंजाबी महाशक्ति मंच ने कल पलवल कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष अशोक चुग की अध्यक्षता में होली मिलन समारोह मनाया जि Read More...

3/18/2019 5:01:53 AM
जर्मनी से आए कैंसर रिसर्च वैज्ञानिकों एवं कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसरस ने राइजिंग के बच्चो के साथ बिताया दिन

FARIDABAD NEWS. 18 MARCH 2019 :    जर्मनी से आए कैंसर रिसर्च वैज्ञानिकों एवं कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसरस ने "द राइजिंग -- तमसो मा ज्योतिर्गमय का द Read More...

3/18/2019 4:50:54 AM
छोटे लिंगियों ने अपनी टोपियां दान कीं दूसरी खिड़की पर उड़ान भरने के लिए फैलाए पंख

FARIDABAD NEWS. 18 MARCH 2019 :   यह वर्ष का वह समय था जब हमारे छोटे लिंगियों ने अपनी टोपियां दान कीं और अगले स्टेशन की दूसरी खिड़की पर उड़ान भरने के लिए अपने पंख Read More...

3/18/2019 3:59:28 AM
प्रो. दिनेश कुमार हुए रंकबन्धु शिक्षा शिरोमणि पुरस्कार से सम्मानित

FARIDABAD NEWS. 18 MARCH 2019 :  जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार को शिक्षा के क्षेत्र में उनके उल Read More...